पूर्व मुख्यमंत्री ने शेयर किया युवक का वीडियो, मोदी के मंत्री बोले-‘मेरे पास पहुँचाओ इसे’

864

हमारे देश में युवाओं की प्रतिभा में कोई कमी नही है, उन्हें जरूरत बस एक सहारे की होती है. ऐसे एक दो नही ना जाने कितने किस्से हमने देखें हैं, सुने हैं. कई बार ऐसा भी हुआ है कि इन बच्चों को, युवाओं को सहारा मिला है और उन्होंने अपनी जज्बे से लोगों को अपना दीवाना बनाया है. आज हम आपको जो खबर आपको बताने जा रहे हैं वो भी कुछ ऐसी ही है.

दरअसल मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने twiiter एक वीडियो शेयर किया और उस वीडियो में एक बच्चा गोली की रफ़्तार से दौड़ता दिखाई दे रहा है. शिवराज सिंह ने चौहान ने केन्द्रीय मंत्री किरण रिजिजू को टैग किया था. हालाँकि बाद जो केन्द्रीय मंत्री रिजिजू ने किया उसकी सबलोग खूब तारीफ कर रहे हैं लेकिन जिस वीडियो को शिवराज सिंह चौहान शेयर किया है उसे शेयर से लोग खुद को रोक नही पा रहे हैं. आखिर क्या है इसे वीडियो में और क्या किया है केन्द्रीय मंत्री ने? आइये आपको बताते हैं.

शिवराज सिंह “भारत के पास कई सारी प्रतिभाएं हैं, उन्‍हें सही मौका और मंच मिले तो वे इतिहास बनाने में आगे रहेंगे। देश के खेल मंत्री किरण रिजिजू से निवेदन करता हूं कि वे इस युवा एथलीट को उसकी स्किल्‍स सुधारने में सहायता करेंगे’ शिवराज सिंह ने जब इस वीडियो को शेयर किया, उसके बाद सोशल मीडिया पर इस लड़के के सहयोग के लिए कई लोग सामने आये लेकिन सबसे ख़ास बात ये है कि केन्द्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने ट्वीट कर कहा कि ‘किसी को इसे मेरे पास भेजने को कहें, मैं इसको एथलेटिक अकादमी भेजूंगा’

मध्य प्रदेश के शिवपुरी का रहने वाला रामेश्‍वर गुर्जर  19 साल का है. गरीब किसान का बेटा है रामेश्वर, लेकिन प्रतिभा ऐसी की लोग देखते रह गये. 11 सेकंड में 100 मीटर की दौड़ पूरी की। नंगे पैर सड़क पर दौड़ते रामेश्वर का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और केन्द्रीय मंत्री रिजिजू और मध्य प्रदेश के मंत्री दोनों मदद के लिए आगे आ गये. सोशल मीडिया की ताकत देखिये साहब, बंगाल के एक स्टेशन पर बैठकर गाना गाने वाली महिला आज स्टार की तरह घूम रही है लोफ उसके साथ सेल्फी ले रहे हैं. परफोर्मेंस के लिए बुला रहे हैं.. वहीँ मध्य प्रदेश के शिवपुरी में 19 साल का एक प्रतिभावान लड़का रामेश्वर जो सोशल मीडिया पर इस समय छा गया है. ये सोशल मीडिया की ही ताकत है. मोदी सरकार आने के बाद लगभग सभी मंत्रालय और मंत्री सोशल मीडिया पर एक्टिव हो गये.

आज उसी का नतीजा है कि एक दो नही, न जाने कितने लोगों को सरकार से मदद मिली है, दबी प्रतिभा बाहर आई है. अगर बात करें सबसे तेज दौड़ने की तो देश में सबसे तेज गति से 100 मीटर दौड़ का राष्ट्रीय रिकॉर्ड अमिया मलिक के नाम हैं. उन्होंने 100 मीटर की रेस 10.26 सेकंड में पूरी की थी. वहीं, पटियाला में शुक्रवार को 100 मीटर पुरुषों की दौड़ में नुजरत ने 10.81 सेकंड में रेस पूरी की. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 100 मीटर रेस को सबसे कम समय में जमैका के उसैन बोल्‍ट ने 2009 में पूरा किया था. उसैन ने बर्लिन वर्ल्ड चैंपियनशिप में यह दूरी 9.58 सेकंड में पूरी कर विश्व रिकॉर्ड बनाया था.

यहाँ देखिये वीडियो

उम्मीद है कि जिस रफ़्तार से रामेश्वर दौड़ रहे हैं, अगर उन्हें ट्रेनिंग और गाइड मिल जाए तो वे एक रिकॉर्ड बना सकते है. इसी प्रतिभा को देखते जहुए शिवराज सिंह ने उनका वीडियो शेयर किया, किरण रिजिजू ने मदद की इच्छा जाहिर की. रामेश्वर के उज्जवल भविष्य कू शुभकामना