आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार के बेटे ने खड़ी कर दी केजरीवाल के बड़ी मुसीबत

दिल्ली की राजनीति में इस समय काफीउथल पुथल मची हुई हैं. पहले आम आमदी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन की तरफ संब्की निगाहें थी.. कई दिनों तक ये खेल चला.. इसके बाद गौतम गंभीर और आतिशी को लेकर बवाल मचा लेकिन अब दिल्ली की राजनीति में भूचाल मचा देने वाली खबर सामने आ रही हैं. दरअसल पार्टी ने पश्चिम दिल्ली संसदीय सीट से बलवीर जाखड़ को उम्मीदवार बनाया है. अब बलबीर जाखड के बेटे उदय जाखड ने आरोप लगाया है कि आम आदमी पार्टी ने उनके पिता को 6 करोड़ रुपये में लोकसभा का टिकट बेचा है. प्रेस कांफ्रेस कर उदय जाखड ने कहा कि ‘मेरी पढ़ाई के लिए पैसे नहीं दे रहे हैं, लेकिन जब टिकट पाने की बात हुई तो 6 करोड़ रुपये केजरीवाल को दे दिए. उन्होंने केजरीवाल से पश्चिमी दिल्ली का टिकट खरीदा.’ इसी के साथ उदय जाखड ने यह भी कहा कि ‘मेरे पिता ने सिख दंगों के आरोपी सज्जन कुमार को जेल से निकालने की भी बात बताई.’ ‘ऐसे आदमी को वोट देने से पहले सोच लें, जो अपने घरवालों की परेशानी को दूर नहीं कर रहा, वो आपके इलाके की समस्या क्या दूर करेगा.’ उदय जाखड ने बताया कि वे अपने पिता से इसलिए नाराज थे क्योंकि बलबीर जाखड सिख दंगे के आरोपी सज्जन कुमार छुडाने की कोशिश कर रहे थे.

उदय ने कहा, ‘मैं इस बात को देखकर चुप नहीं बैठ पाया, इसलिए आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये बात बता रहा हूं.’ आपको बता दें कि उदय बलबीर जाखड़ की पहली पत्नी के बेटे हैं जो अपनी माँ के साथ अलग रहते हैं. अब इस खबर एके सामने आने के बाद दिल्ली की राजनीति में भूचान आना तय माना जा रहा है. वैसे आम आदमी पार्टी पर पैसे लेकर टिकट बेंचने का आरोप बहुत पहले से लगता आ रहा है. लेकिन इस बार तो कुछ ही महीने पहले पार्टी में शामिल हुए नेता को जब पार्टी ने टिकट दे दिया..वो उसका जिसका इतिहास में दूर दूर तक राजनीति से कोई लेना देना ना हो.. दिल्ली की राजनीति में बीजेपी के गौतम गंभीर और आम आदमी पार्टी की आतिशी को लेकर तबसे बवाल मचा हुआ है जब किसी ने आतिशी के बारे में कुछ अपशब्द लिखकर कुछ जगहों पर बाँट दिया गया था.

आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया था कि यह बीजेपी के उम्मीदवार गौतम गंभीर के इशारे पर हुआ है लेकिन गौतम गभीर ने आम आदमी पार्टी को इस आरोप को खारिज करते हुए मानहानि का केश करने की बात कही थी इसके बाद आम आदमी पार्टी ने भी गंभीर को नोटिस जारी कर माफ़ी मागने के लिए कहा था, ऐसा ना करने पर केस करने की धमकी दी थी लेकिन इस शर्मनाक काण्ड का आम आदमी पार्टी राजनितिक रूप से इस्तेमाल कर रही हैं और इसके लिए ऑडियो कॉल तक कराये जा रहे हैं. वहीँ अब आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार बलबीर जाखड़ के टिकट खरीदने वाले दावे के सामने के बाद दिल्ली की राजनीति में एक बार फिर भूचाल मचना तय माना जा रहा है