न्यूजीलैंड और भारत के मैच के दौरान बना ये शर्मनाक इतिहास!

28

भारत वर्ल्ड कप से बाहर हो चुका है. बारिश की वजह से पहले दिन मैच रद्द कर दिया गया था पहले दिन भारत की पकड मैच पर थी.. न्यूजीलैंड को कम स्कोर पर रोकने में भारतीय टीम कामयाब रही… और इसी दिन न्यूजीलैंड के नाम इस वर्ल्ड कप में एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया था लेकिन बाद में वो इंडिया के नाम हो गया वो हम आपको आगे बतायेंगे.. लेकिन भारतीय टीम के समर्थकों के लिए मायूस करने देने वाली बात यही है कि भारत फ़ाइनल में नही पहुँच पाया… दुसरे दिन मैच के दौरान भारत की स्थिति तो ये गयी थी कि लगने लगा था कि भारत बहुत बड़े स्कोर से हार जाएगा लेकिन धोनी और जडेजा की पार्टनरशिप की वजह से उम्मीदें एक बार जग गयी थी. जडेजा ने धामाकेदार पारी खेली चार छक्के जड़ दिए.. न्यूजीलैंड के गेंदबाजों की हालत खराब हो गयी थी.. लेकिन शॉट मारने के चक्कर में जडेजा आउट हुए तो सबको उम्मीदें सिर्फ धोनी से थी.. लेकिन धोनी भी रन आउट हो गये.. वैसे अक्सर देखा गया है कि धोनी बिकेट के बीच रन के लिए बहुत तेजी से दौड़ते हैं लेकिन दो रन के चक्कर में धोनी भी आउट हो गये. और मैच भारत के हाथ चला गया.


अब बात करते हैं न्यूजीलैंड की.. पहले बैटिंग करते हुए न्यूजीलैंड की शुरुवात बहुत धीमी रही.. इतनी धीमी की न्यूजीलैंड के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया था . बुमराह और भुवनेश्वर की सटीक और शानदार गेंदबाजी के आगे न्यूजीलैंड की पारी की शुरुआत बेहद धीमी रही। न्यूजीलैंड की स्थिति ऐसी हो गई थी कि उन्होंने 17 गेंदों के बाद अपना खाता खोला। बुमराह और भुवनेश्वर दोनों ने ही अपना पहला ओवर मेडेन निकाला। न्यूजीलैंड ने पहले पॉवरप्ले यानी की शुरू के 10 ओवर में 1 विकेट के नुकसान पर मात्र 27 रन बनाए थे , ये इस वर्ल्ड कप का पॉवरप्ले में बनाया गया सबसे कम स्कोर था. इससे पहले ये रिकॉर्ड इंडिया के नाम पर ही था. बर्मिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले में पहले 10 ओवर में 1 विकेट के नुकसान पर मात्र 28 रन बनाए थे…. इसके साथ ही योर्कर किंग के नाम से मशहूर बुमराह इस वर्ल्ड कप में सर्वाधिक मेडेन ओवर फेंकने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। बुमराह ने अब तक कुल 9 मेडेन ओवर किए हैं। लेकिन अब भारत के नाम ही ये रिकॉर्ड दर्ज हो गया है. दरअसल इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ खेलते हुए 10 ओवर यानि पहले पॉवरप्ले तक सिर्फ 24 रन ही बना पायी.. जिसके कारण इंग्लैंड का ये रिकॉर्ड भारत के नाम हो गया..लेकिन 17 बाल के बाद खाता खोलने का रिकॉर्ड तो अभी न्यूजीलैंड के पास ही है.


खैर भारतीय टीम की तरफ से किये गये प्रदर्शन से लोग खुश हैं लेकिन वर्ल्ड कप फाइनल से बाहर होने मायूस जरूर हैं. न्यूजीलैंड ने 50 ओवर में 8 विकेट पर 239 रन बनाए, जवाब में टीम इंडिया 49.3 ओवर में 221 रन बनाकर आउट हो गई। भारत लगातार दूसरे वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो रहा है। ये धौनी का आखिरी विश्व कप था और ऐसे में सबको उम्मीद थी कि टीम इंडिया 2011 का इतिहास फिर दोहराएगा। धौनी और रविंद्र जडेजा ने टीम को मुश्किल से उबारा था और जीत की उम्मीद जगाई थी, लेकिन अंत में कीवी टीम जीतकर फाइनल में पहुंच गई।
इंडियन टीम के बाहर होने पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा, ‘निराशाजनक नतीजा लेकिन अंत तक टीम इंडिया का जुझारूपन देखकर अच्छा लगा। भारत ने पूरे टूर्नामेंट के दौरान काफी अच्छी बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण किया जिस पर हमें काफी गर्व है। जीत और हार जीवन का हिस्सा है। भविष्य के लिए टीम को शुभकामनाएं।’


राहुल गाँधी ने ट्वीटर पर लिखा कि भले आज रात एक अरब दिल टूट गए, लेकिन टीम इंडिया आपने एक बड़ी लड़ाई लड़ी है और हमारे प्यार और सम्मान के योग्य हैं। न्यूजीलैंड की टीम ने जीत कमाई है। उन्हें विश्व कप फाइनल में जगह मिली, इसके लिए बधाई।’