भारत ने अपने एयरस्पेस में लगे अस्थाई प्रतिबंध को पाकिस्तान के लिए हटाया

147

मोदी और उसके कैबिनेट ने कार्य भार संभलने के बाद एक मीटिंग कि,और इस इस मीटिंग में कई एहम फैसलें भी लिए गए,लेकिन एक फैसला शायद आपको चौंका सकता है,दरअसल पुलवामा हमले के कुछ दिनों बाद ही भारत ने अपना एयर स्पेस पाकिस्तान के लिए अस्थाई रूप से बंद कर दिया था,लेकिन अब खबर आई है कि पाकिस्तान को अपनी दरियादिली दिखाते हुए भारत ने अपना एयर स्पेस पाकिस्तान के लिए खोल दिया है, और ये जानकारी खुद इंडियन एयर फ़ोर्स आईएएफ ने शुक्रवार शाम अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके ये इनफार्मेशन दी कि 27 फरवरी 2019 से इंडियन एयरफोर्स द्वारा भारतीय एयरस्पेस में सभी रूट्स पर लगाए गए अस्थाई प्रतिबंधों को हटा लिया गया है।

भले ही ये भारत की तरफ से कंगाली से जूझ रहे पाकिस्तान के लिए ये एक स्वीट गेस्चर हो , ताकि पाकिस्तान भी अपने एयरस्पेस को पहले की तरह उड़ानों के लिए खोल सके,लेकिन पाकिस्तान तो फिर भी अपनी कायराना आदतों से बाज़ नहीं आयेगा , लेकिन इंडिया एयरफोर्स ने ये भी कहा है कि ये आपसी सहमति का मामला है,और  हमने संकेत दे दिए हैं कि भारत को उनकी फ्लाइट्स के गुजरने से कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन पाकिस्तान को भी अब भारत की एयरलाइंस के लिए अपना एयरस्पेस खोलना होगा, यहाँ आपको ये बता दें दें कि पाकिस्तान ने तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के लिए अपना एयर स्पेस खोल दिया ,और मिली जनकारी के मुताबिक दरअसल दो दिवसीय एससीओ की बैठक में हिस्सा लेने के लिए 21 मई को सुषमा स्वराज को किर्गिजस्तान की राजधानी बिश्केक जाना था, जिसके लिए सुषमा स्वाराज को पाकिस्तान की हवाई सीमा से होकर जाना पड़ता..जिसके लिए पाकिस्तान ने बिना आना कानी किये उन्हें अपने एयरस्पेस से जाने की इजाजत दे दी थी..पर उसके बाद फिर से उसने अपना एयर स्पेस बंद कर दिया था ,लेकिन यहाँ भारत ने ये बता दिया है कि वो हर मामले और मायने में पाकिस्तान से आगे है ,भारत की आदत नहीं है कि वो अपनी दरियादिली के किस्से जा जा कर पाकिस्तान की तरह हर देश को सुनाये, पर ये खुद व खुद सबके सामने आगया है कि भारत दरियादिली के मायने ने पकिस्तान से बड़ा है,और भारत सरकार के इस निर्दय से विश्व के सामने भारत की ये छवि बन गयी, कि महानता ने वो पाकिस्तान से कई गुना आगे है और दूसरी तरफ हम ये भी कह सकते है दूसरा मकसद इसका ये भी हो सकता है कि पाकिस्तान भी अपने एयरस्पेस को पहले की तरह उड़ानों के लिए खोल दे ,क्यों की पाक एयरस्पेस के खुलने से दक्षिण एशिया समेत दिल्ली और पश्चिम के लिए उड़ानों की दूरी भी कम होगी..तो कही ना कही इसमें दोनों देशों का फ़ायदा है.पर जानकारों के मुताबिक ये बात भी सामने आई है कि बालाकोट में हुए एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान अभी तक इतना डरा हुआ है कि अपना एयर स्पेस खोलने से भी डर रहा है,क्यों की pm मोदी ने ऐसा पाशा फेंका है जिसके आगे पाकिस्तान को झुकना ही पड़ेगा,अब चाहे मजबूरी में या फिर दबाब में आकर पाकिस्तान को भी अब अपना एयर स्पेस भारत के लिए खोलना ही पड़ेगा,और अगर पाकिस्तान ने ऐसा नहीं किया तो कंगाली से झूझ रहे पाकिस्तान को इंटरनेशनल प्रेशर भी झेलना पड़ेगा..

तो सरकार ने जो ये प्लान बनाया है इसमें पाकिस्तान कुछ नहीं कर पायेगा .हर थक कर यूज़ भी अपना एयर स्पेस खोलना ही पड़ेगा..खैर अभी तो ये शुरुवात है आगे पता नहीं ना जाने क्या क्या पाकिस्तान को और भारत सरकार की तरफ से ऐसे सरप्राइज मिलेंगे जिन से पाकिस्तान की नींद और चैन दोनों ही हराम जायेंगे..