तीसरी शादी के चलते डूब गया इस करोडपति का व्यापार?

896

एक डोसा कारोबारी जिसका कारोबार कई देशों में फैला हुआ था लेकिन उसकी एक जिद्द ने उसे पतन के रास्ते पर ला दिया . हम बात कर रहे है देश-विदेश में मशहूर दक्षिण भारतीय व्यंजन की रेस्टोरेंट चेन सर्वाना भवन के मालिक और डोसा किंग के नाम से प्रसिद्ध पी राजगोपाल की..जो कामयाबी की उंचाई को छुआ था जमीन से उठकर. लेकिन एक महिला की चाहत ने उसे बर्बाद कर दिया.. सफ़ेद कपडे और माथे पर चन्दन लगाकर रहने वाले इस कारोबारी से कर्मचार बेहद खुश रहते है लेकिन अब राजगोपाल पर एक महिला के पति की हत्या के आरोप में सजा सुनाई गयी है. तो अगला सवाल ये हैं कि महिला कौन थी, महिला के पति की हत्या क्यों करवाई,
राजगोपाल एक व्यक्ति के अपहरण और हत्या का दोषी पाया गया है। इस व्यक्ति की पत्नी से राजगोपाल तीसरी शादी करना चाहता था। दरअसल बेटे की पढ़ाई के लिए रामास्वामी ने संथाकुमार नाम के शिक्षक को रखा, जिसे बाद में उसकी बेटी जीवज्योति से प्यार हो गया।

अब यहाँ आपको बता दें कि संथाकुमार वो व्यक्ति है जिसकी ह्त्या करवाई गयी और जीवज्योती संथाकुमार की पत्नी थी.. दोनों ने शादी कर ली.. लेकिन किसी तरह से राजगोपाल का सम्पर्क जीवज्योती से हो गया.. फिर तो राजगोपाल कुछ भी करके बस जीवज्योती से शादी कर लेना चाहता था. उसने हर तरकीब अपना ली, लड़की के माँ बाप से मिल लिया… लड़की से मिला.. उसके पति से मिला लेकिन कोई मानने को तैयार नही हुआ लेकिन इधर राजगोपाल किसी भी तरीके से जीवज्योति को पा लेना चाहता था… अंत में साल 2000 में उसने कुछ भाड़े के गुंडे को संथाकुमार की हत्या करने का आदेश दे दिया. हत्या कर भी दी गयी.. फिर जीवज्योति ने इसके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई.. कोर्ट में केस चला 2004 में उन्हें दोषी पाया गया और 10 साल की सजा सुनाई गई। अपील पर उन्हें हत्या का दोषी ठहराया गया था और सजा को बढ़ा दिया गया था। मार्च में सुप्रीम कोर्ट ने फैसले को बरकरार रखा। कोर्ट ने उन्हें 7 जुलाई तक आत्मसमर्पण करने और अपने जीवन के बाकी बचे हिस्सों को सलाखों के पीछे बिताने के आदेश दिए हैं।


किराने की दूकान से अपने कारोबार की शुरुवात करने वाले राजगोपाल के कारोबार की 80 शाखाएं खुल गयी हैं. जो शुरुवात में इडली डोसा चटनी बेचने का काम करता था. देखते ही देखते उसके ब्रांच देश के लगभग हर मुख्य शहर में खुल गये, विदेशों में भी स्टोर खुल गये..राजगोपाल कि पहले ही दो शादियों हो चुकी थी वो तीसरी शादी करना चाहता है. बताया जाता है कि तीसरी शादी किसी ज्योतिषी के कहने पे कर रहा था… बहुत कोशिश की पर नाकाम रहा लेकिन इतिहास गवाह है कि लड़की और औरत के चक्कर में बड़े बड़े राजा महाराज बर्बाद हो गये तो राजगोपाल कौन थे वे भी बर्बाद हो गये..खैर अब उनका कारोबार उनके दोनों बेटे संभाल रहे हैं. आप भी सतर्क रहिये होशियारी से काम लीजिये