केजरीवाल का दिल्ली की जनता को नया फ्री डोज़

जल्द ही दिल्ली में विधान सभा चुनाव होने वाले हैं. अब चुनाव हैं तो जाहिर से बात है कुछ लोक लुभावन घोषणाएं सामने आएगी ही. इस बार भी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को अपना पुराना वादा चिपका दिया जिसे वो पिछले 5 सालों में पूरा नहीं कर पाए थे. साल 2015 विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में फ्री वाईफाई देने की घोषणा की थी.

अब जब चुनाव करीब हैं तो दिल्ली सरकार फिर से वही वादा कर रही है. गुरुवार को केजरीवाल कैबिनेट को याद आया कि दिल्ली को फ्री वाईफाई भी देना था, फिर क्या… उन्होंने हॉटस्पॉट लगाने की बात कह दी. वादे के मुताबिक एक लाख 40 हजार सीसीटीवी कैमरा और लगाए जाएंगे इसमे भी कुछ नया नहीं है पहले ही. चुनाव की तैयारी में जुटी केजरीवाल सरकार ने पहले ही 200 यूनिट तक बिजली मुफ्त देने का वाद किया है.

वैसे अभी ज़्यादा दिन नहीं हुए हैं, जब केजरीवाल ने लोकसभा चुनाव के समय जनता को लुभाने के लिए औरतों को फ्री मेट्रो और DTC बस सेवा देने का वादा किया था. तब दिल्ली के मुख्यमंत्री जो आम तौर पर ये कहते थे कि दिल्ली सरकार को केंद्र से ख़ास मदद नहीं मिलती है और दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देना चाहिए, और फिर करोड़ों का घाटा उठा कर फ्री मेट्रो रेल सेवा देने के लिए तैयार हो जाते हैं. जब इस घोषणा को मंजूरी नहीं मिली तो केजरीवाल ने सारा आरोप केंद्र पर ही डाल दिया. अब देखना ये हैं कि इनके पुराने गिफ्ट पर चढ़ा नया रैपर जनता को कितना पसंद आता है.

पिछली बार तो जनता ने इन्हें मौका दे दिया लेकिन सरकार में आने बाद भी केजरीवाल सरकार ने अपनी पुरानी धरना प्रदर्शन की आदत नहीं छोड़ी, इसीलिए तो वो विधानसभा में काम और विरोध प्रदर्शन में ज़्यादा नज़र आते थे. सरकार में रह कर विपक्ष का ही काम करते रहे, ऐसे में अब क्या दिल्ली की जनता क्या इन्हें वापस से अपनाएगी?