भारत ने अमेरिका को सख्त हिदायत दी कहा की कश्मीर मुद्दे पर कोई दखल नहीं की जाएगी बर्दाश्त

भारत ने बीते दिनों पाकिस्तान को एक बहुत बड़ा झटका दिया है. जहाँ पाकिस्तान अमेरिका को फुसलाने में लगा था की वो भारत से कश्मीर के मुद्दे पर मध्यस्ता करवाए, तब तक भारत ने कश्मीर से धारा 370 को खत्म कर पाकिस्तान को सदमे में डाल दिया. जहाँ पाकिस्तान ये सपने देख रहा की वो अमेरिका के ज़रिये भारत पर बन्दूक तानेगा वहां भारत ने कदा रुख अपनाते हुए अमेरिका को सक्त हिदायत दे की वो कश्मीर के मुद्दे में कोई दखल अंदाजी न करें.

अब एक्सप्रेस UK की एक रिपोर्ट के मुताबिक भरता ने अमेरिका को इस द्विपक्षीय मुद्दे से दूर ही रहने को कहा है. ये बात पाकिस्तान के लिए अच्छी नहीं है क्यूंकि उसने तो सारी उम्मीद ही अमेरिका से लगा रखी थी की वो भारत को समझा सकते हैं. लेकिन यहाँ तो पूरा दौ ही उल्टा पड़ गया. अब पाकिस्तान की जनता अपने प्रधान मंत्री को खरी खोटी सुना रही है. आप मिलिट्तोरी के दबाव टेल इमरान करे भी तो क्या ? आनन फानन में इमरान अपनी जनता का दिल जितने की हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान एयर फोर्स, आर्मी के साथ मिलकर युद्ध अभ्यास करने की योजना बना रहा था. ताजा गतिविधियां उसी का हिस्सा हो सकती हैं. स्कर्दू पाकिस्तान एयर फोर्स का सैन्य अभियान की अग्रिम चौकी है जिसका इस्तेमाल वह भारत के साथ लगी सीमा पर आर्मी ऑपरेशनों की मदद के लिए करता है.

ये सब कर के इमरान अपनी जनता को अश्वास देना चाहते हैं की वो भारत के खिलाफ एक्शन लेंगे. लेकिन बुधवार को उनके POK के दौरे के वक्त उन्होंने एक बात कही, उन्होंने कहा की भारत सरकार का कोई भरोसा नहीं है वो उनके कश्मीर भी घुस सकते हैं. इस बात से उनका डर साफ़ झलक गया. खैर ये बात विदेशी मीडिया भी खूब समझ रही है तभी तो एक्सप्रेस UK ने ख़बर छपी है की भारत ने अमेरिका को इस मुद्दे से दूर रहने की हिदायत दी है. अब ये बात साफ़ होगयी है की पाकिस्तान जितना भी हाथ पैर मर ले मामला उसके साथ से निकल चूका है. पाकिस्तान पर वो कहावत फिट बैठती है” खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे.”