धर्म

कौन हैं विदिशा मैत्रा, जिन्होंने UN में पाकिस्तान को धो डाला!

एक नाम जो इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है. ये नाम है विदिशा मैत्रा का..पाकिस्तान की धज्जियां उड़ाने वाली विदिशा मित्रा की जमकर तारीफ हो रही है. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के...

24 सितंबर 2002 का वो हादसा जिसने गुजरात की मोदी सरकार को हिला के...

आज 24 सितंबर 2019 है, चलिए आपको आज से 17 साल पीछे ले चलें और 24 सितंबर 2002 के एक ऐसे आतंकवादी हमले के बारे में आपको बताएं जिसने पूरे देश...

राम मंदिर मुददे में आया नया मोड़ – बाबर जब अयोध्या गया ही नहीं...

अयोध्या एक ऐसा धार्मिक ,राजनीतिक, ऐतिहासिक और सामाजिक जगह है जिसपर बात किये बिना कोई राजनेता राजनीति नही करता और राजनीति है तो अयोध्या का मुददा भी है . यह मुददा कई...

अनुराग कश्यप हों या राना अयूब नहीं चाहते कश्मीर मुद्दे का हल

आज जब मैं twitter खोलती हूँ तो कुछ ऐसे तत्व देखने को मिलते हैं, की मैं सोच में पड़ जाती हु की इस देश में वामपंथ विचार धारा किस ओर जा रही है. इन...

ब्राह्मणों के 8 प्रकार जानिए आप कौन से प्रकार वाले है

पुरातन काल से ही ब्राह्मण श्रेष्ठ माने जाते रहे है। ब्राह्मण होना गौरव की बात रही है हमारे समाज में। लेकिन ब्राह्मण होना जन्म आधारित सही है या कर्म से इसका कुछ...

ओवैसी को करारा जवाब दिया आरिफ मोहम्मद खान ने, देखिया क्या कहा

तीन तलाक पर फैसला आने के बाद मौलानाओं और मुस्लिम राजनेताओं में बेचैनी देखने को मिल रही हैं. मुस्लिम सांसदों से लेकर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड तक सब इस कानून के साथ साथ सरकार...

धार्मिक कार्यों पर सरकार के पैसा ख़र्च करना लिबरल मीडिया को क्यों रास नहीं...

पिछले कुछ सालों में उत्तर भारत की राज्य सरकारों द्वारा धार्मिक कामों में खर्च किया जा रहा पैसा लिब्रेअल मीडिया को रास नहीं आ रहा. हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने...

ये हैं वो सबूत जो लिं-चिंग को देते है जय श्री रा’म का झूठा...

2014 के बाद हमरे देश में कुछ विशेष बुद्धिजीवियों ने और कुछ मीडिया गिरोह ने असहिष्णुता का राग अलापना शुरू कर दिया था कुछ लोगों को तो अपने ही देश में डर लगने लगा...

1 लाख से ज्यादा फतवे जारी कर चुके दारुल उलूम देवबंद का एक और...

सहारनपुर के देवबंद का इस्लामिक शिक्षण संस्थान दारुल उलूम देवबंद अपने एक फतवे को लेकर फिर से चर्चा में है. संस्थान की तरफ से ईद पर एक ऐसा फतवा जारी कर दिया...

क्या अब धार्मिक स्थलों के सामने से गुज़रते हुए बारातों को खामोश होना होगा?

मध्यप्रदेश में देवास जिले की सोनकच्छ तहसील के एक गाँव पिपलियारावान में दलितों के यहाँ बरात आई थी. ख़ुशी का माहौल था. रस्मों और रीति-रिवाजों के शुरू होने का वक़्त था. शुरुआत...