पत्नी ने भाजपा को वोट दिया तो गुस्साए पति ने फावड़े से काटकर की हत्या

लोकसभा चुनाव के सातों चरण पूरे हो चुके है, आप सब ने अपनी अपनी मर्जी से उस पार्टी को वोट दिया होगा जिसको आप देना चाहते है, या फिर जिस पार्टी का काम काज आपको सबसे अच्छा लगा होगा अपने उस पार्टी को ही अपना वोट दिया होगा लेकिन चुनाव ख़त्म होने के बाद भी कुछ ऐसी घटनाये भी सामने आ रही है जो बकाई बेहद चौकाने वाली है..मामला है गाजीपुर का जहाँ एक पति ने अपनी पत्नी की फावड़े से काटकर सरेआम हत्या कर दी..अब आप सोच रहे होंगे इसका चुनाव से क्या लेना देना है,तो सुनिए रविवार को बसपा और बीजेपी को वोट डालने के लिए पति और पत्नी के बीच में विवाद शुरू हुआ हुआ.जहाँ पति बसपा को वोट डालने के लिए बार बार बोल रहा था तो पत्नी बीजेपी को वोट डालने के लिए कह रही थी…उस विवाद के बाद भी पत्नी ने बीजेपी को ही वोट दिया,इसी बात को लेकर सोमवार सुबह फिर पति और पत्नी के बीच में विवाद शुरू हो गया, और पति अपनी पत्नी के बीजेपी को वोट डालने से इस कदर नाराज़ हो गया कि उसने फावड़े से काटकर बेरहमी से उसकी हत्या कर दी…और हत्या के बाद भी वो फावड़े के साथ शव के पास ही खड़ा रहा..लेकिन उसने जैसे ही भीड़ को जुटता देखा तो उसके बाद वह वहां से तुरंत भाग गया.

पर कुछ देर बाद जैसे ही हत्या की सूचना पीडिता के घर वालों को मिली वो भी वहां आ गए..लेकिन उन्होंने इस हत्या का कारण कुछ और भी बताया,उन्होंने कहा कि उनकी बेटी की हत्या दहेज़ के लिए की गयी है..उसके बाद उन्होंने बेरहमी से उनकी बेटी की हत्या करने के लिए सड़क पर चक्का जाम किया..लेकिन मौके पर तुरंत क्षेत्राधिकारी और कोतवाल पहुचे और पीडिता के परिवार वालों को समझाया और और उनको शांत कराया उसके बाद पीडिता की माँ ने उसके पति ,सास और सासुर के खिलाफ दहेज़ हत्या का केस दर्ज किया, और पुलिस ने भी देर शाम आरोपी पति को भी गिरफ्तार कर लिया..

खैर ये तो पुलिस की आगे की जाँच पड़ताल में सबके सामने ही आजयेगा कि पूरा मामला आखिर था क्या ?

क्या सिर्फ दहेज़ के लिए पर्ताड़ना की वजह से की गये हत्या थी, या फिर अपनी मनचाही पार्टी के को वोट देने की सजा..जहाँ एक तरफ लोकसभा चुनाव ख़त्म हो गया है ..और लोग 23 मई का इन्तजार कर रहे है,लेकिन up के गाजीपुर से सामने आने वाली ये घटना बकाए दिल दहलाने वाली है,अगर हत्या का कारण सच में सिर्फ अपनी मन चाही पार्टी को वोट देना है…आमतौर पर हम सब के घरों में या फिर हमारे दोस्तों के बीच राजनीतिक दलों को लेकर मतभेद रहते ही है ये कोई इतनी बड़ी बात नहीं है,और अपनी पसंद के अधार पर या उस पार्टी के कामों के अधार पर ही लोग उस उम्मीद वार को वोट देते है जिसे वो वोट देना चाहते है..लेकिन यही मतभेद एक बड़े विवाद का रूप लेकर उस महिला के लिए जानलेवा साबित हुआवैसे एक हैरान करने वाली खबर लोकसभा चुनाव के दौरान बुलंदशहर से आई थी,जहाँ एक युवक ने अपने ही हाथ की ऊँगली काट ली थी और कारण सिर्फ इतना था कि उसने मतदान के दौरान गलती से उसने भाजपा को वोट दे दिया था ,जबकि वो बसपा को वोट देना चाहता था,पर वोट डालते समय उससे गलती से हाथी के बटन की जगह कमल का बटन दब गया..और जब यूज़ अपनी गलती का एह्साह हुआ तो उसने घर आकर अपनी ऊँगली काट दी थी ,जिस ऊँगली से उसने कमल का बटन दबाया था.. ..और यहाँ भी उस आदमी ने अपनी पत्नी की सिर्फ इसलिए हत्या कर दी क्योंकि उसने बसपा को नहीं बल्कि भाजपा को वोट दे दिया था.